Tuesday, 4 September 2012

हाइकु



हर  तरफ
मद की आगजनी
भय लगाए|


हर जगह
लोभ की अठखेली
है भरमाए|


तिरष्कृत है
ईमान की लड़ाई
कौन,क्यों आए?
 
सफाई हेतु
राजनीती में आए
ना घबराएं|

स्वाति वल्लभा राज

3 comments:

  1. बढ़िया भाव,,
    बढ़िया हायेकु...

    अनु

    ReplyDelete
  2. कमाल का हाइकू ..

    ReplyDelete